Jamia

जामिया अल हिदाया जामिया नगर नगला राई में स्वतंत्रता दिवस के मौके शनादर प्रोग्राम आयोजित हुआ

चरथावल
जामिया अल हिदाया जामिया नगर
नगला राई में स्वतंत्रता दिवस के मौके शनादर प्रोग्राम आयोजित हुआ कांग्रस के दिग्गज नेता सोमांश प्रकाश,संस्था अध्यक्ष हाफ़िज़ फुरक़ान असअदी,प्रबन्धक मौलाना मूसा क़ासमी ,आसिफ राही मौलाना अहसानुलहक़ क़ासमी समेत गणमान्य लोगो द्वारा राष्ट्रीय ध्वजारोहण किया गया, मदनी एजुकेशनल एण्ड वेलफेयर सोसायटी के तहत जामिया अल हिदाया जामिया नगर व गर्ल्स संस्था जामिया आएशा सिद्दीका लिल बनात का जश्ने आज़ादी प्रोग्राम जामिया अल हिदाया के प्रांगण में हुआ
प्रोग्राम मे जामिया के छात्र छात्राओं ने देश भक्ति पर आधारित शनादर प्रस्तुति दी,बच्चो ने नाटक,भाषण,नज़्मों के ज़रिये आज़ादी के मतवालों की कुर्बानियो को याद किया,कई बार प्रोग्राम में उपस्थित लोगों की आँखे नम हुई,
प्रोग्राम की अध्यक्षता हाफ़िज़ मुहम्मद फुरक़ान असअदी ने की ,जबकि संचालन जामिया अल हिदाया के प्रबन्धक मौलाना मूसा क़ासमी ने किया,
स्वंतत्रता दिवस के इस प्रोग्राम में मुख्यातिथि के तौर पर पूर्व विधायक व कांग्रेस के दिग्गज नेता सोमांश प्रकाश व विशिष्ट अतिथि पैग़ाम ए इंसानियत के अध्यक्ष आसिफ राही रहे ,
इस अवसर पर पूर्व विधायक सोमांश प्रकाश ने कहा कि आज़ादी के मतवालो ने देश को आज़ादी दिलाने की ख़ातिर अपने बच्चे ,मां बाप समेत सब कुछ क़ुरबान कर दिया था,उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी,पण्डित नेहरू,सुभाषचंद्र बोस,शैखुल हिन्द मौलाना महमूदुल हसन देवबन्दी,शैखुल इस्लाम मौलाना हुसैन अहमद मदनी,शहीद भगत सिंह ,अशफ़ाक़ुल्ला खां समेत हज़ारो की संख्या में भारत के सपूतो ने अपनी जानो का नज़राना देश की आज़ादी के लिये दिया,उसी का नतीजा है कि हम खुली फ़िज़ा में सांस ले रहे हैं,
अधयक्ष हाफ़िज़ फुरक़ान असअदी ने कहाँ ये दिन हमारा क़ौमी त्योहार है,जो सब एक साथ भरपुर जज़्बे के साथ मनाते हैं,लेकिन हमे उन मुजाहिदीन ए आज़ादी की क़ुर्बानियों को भी याद करना चाहिये जिनकी बदौलत ये दिन देखने को मिला,उन्होंने पूरी अखण्डता,इत्तेहाद और कदम से क़दम मिलाकर ग़ुलामी की जंज़ीरों को तोड़ा था,अंग्रेजों को मुल्क से भगाया था,आज हमें संकल्प लेना है कि इसी तरह कन्धे का कन्धा मिलाकर देश से फ़िरक़ा परस्ती,भरष्टाचार नशा ख़ोरी को ख़त्म करना है ये ही सबसे बड़ी देश भक्ति होगी,
पैग़ाम ए इंसानियत संस्था के अध्यक्ष आसिफ राही ने कहा कि आज ख़ुशी है की हमारा देश आज़ाद हो गया लेकिन क्या हम आज़ादी का भरपूर आनन्द ले रहे हैं,आज आज़ाद हिंदुस्तान में साम्प्रदायिकता,मोब लिंचिंग,भरष्टाचार अपने चरम पर है,हमे सबको मिलकर इनके के खिलाफ लड़ना होगा,
यमनकुमार एडवोकेट ने कहा कि देश की आज़ादी किसी भी धर्म समाज की अकेल की वजह से नही हई,बल्कि आज़ादी की लड़ाई में जहां गांधी जी नेहरू जी का योगदान है वही मौलाना आज़ाद,मौलाना हुसैन अहमद मदनी,शहीद भगत सिंह,अशफ़ाक़ुल्ला खान के योगदान किसी से कम नही,उन्होंने कहा कि बाबा जी भीम राव अम्बेडकर देश को सविंधान के रूप में सशक्त रास्ता देकर गए है,उन्होंने उन देशद्रोही शक्तियों के खिलाफ कविता पढ़कर जिन्हों ने देश का संविधान जलाने का अपराध किया है लोगों को जागरूक किया,
जामिया के छात्र/छात्राओं ने स्वन्त्रता दिनवस पर देश भक्ति भाषण,नाटक,नज़्में पढ़कर माहौल को भावुक कर दिया,
इस अवसर पर पूर्व विधायक सोमन्श प्रकाश,हाफ़िज़ फुरक़ान,मौलाना मूसा क़ासमी,मौलाना अहसान क़ासमी,
हाजी आसिफ राही,नफीस प्रधान,हाजी फ़ैयाज़ पूर्व प्रधान,हाजी यमन कुमार एडवोकेट,विजय पाल,महीपाल,चुन्नी लाल,श्याम सिंह भगत,
प्रधानाचार्य फुरकान गौर,कारी शुऐब आलम,कारी शाहनवाज,चौधरी लुक़मान ,ज़हीर अहमद,दिलशाद पहलवान,हाजी नईम,साजिद अत्तार,मौलाना सलीम आदि उपस्थित रहे।

दिलों से कड़वाहट निकालने के लिए अमन के पेड़ लगाए-मौलाना महमूद मदनी -विश्व मे एकता का संदेश देना यात्रा का उद्देश्य

संवाद-सूत्र चरथावलः जमीयत उलमा-ए-हिन्द व परमार्थ निकेतन के तत्वावधान में जमीयत यूथ क्लब एवं ग्लोबल इण्टरफेथ वाश एलायंस के सौजन्य से अमन एकता हरियाली यात्रा का आयोजन ग्राम नगला राई के जामिया अल हिदाया में आयोजन किया गया। सभा को संबोधित करते हुए जमीयत-उलमा-ए हिन्द के राष्ट्रीय महासचिव मौलाना महमूद मदनी ने कहा कि वायु है तो आयु है इसलिए दिलो की कड़वाहट को घोलने के लिए हरे-भरे पौधे लगाए ताकि दिलो में भी मोहब्बत का झंडा फहरता रहे।वही स्वामी चिदानन्द ने कहा कि अगर वतन में अमन के फूल खिलाने है तो हरियाली अर्थात हरि व अली के लोगो को एक साथ आगे आकर सब के दिलो में मोहब्बत के पेड़ लगाने होंगे।हमें यह पैगाम मन्दिर ,मस्जिद व धार्मिक स्थलों से देना होगा।इससे पूर्व मदरसे में पौधा रोपण कर देश मे अमन व पर्यावरण का संदेश दिया गया।
गांव नगला राई में आयोजित अमन एकता हरियाली यात्रा के मौके पर महमूद असद मदनी ने कहा कि इंसान को जिंदा रहने के लिए ऑक्सीजन,पानी व सफाई तीनो जरूरी है इनके बिना इंसान का जीना मुश्किल है ऑक्सीजन लेने के लिए हर एक इंसान को पेड़ लगाकर उसकी परवरिश करने का संकल्प लेना होगा।पेड़ से इंसान ही नही,पशु पक्षियों व फसलों को भी ऑक्सीजन मिलती है इसलिए सभी लोग पेड़ काटने के बजाए अपने खेत खेतों की मेढो पर पेड़ लगाए। उन्होंने हाथ उठवाकर सभी से संकल्प लिया कि प्रत्येक व्यक्ति ग्यारह पौधारोपण कर उसकी हिफाजत करेगा।परमार्थ निकेतन आश्रम ऋषिकेश के अध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने कहा कि वतन की शान्ति के लिए पूरे विश्व मे एकता का संदेश देना ही इस यात्रा का मुख्य उद्देश्य है ।पीर व फकीर वही बनता है जो पूरी कायनात के लिए जीता है।इसलिए पेड़ भी हमारे लिए पीर है।इसलिए हम सब को पर्यावरण की शुद्धि व अमन के लिए संकल्प लेकर एकता के पेड़ लगाने होंगे।ऐसा न करने पर एक समय ऐसा आएगा कि पर्यावरण दूषित होने के कारण बच्चो को स्कूल में मॉस्क पहनकर जाना पड़ेगा ।उन्होंने चरथावल वालो से हाथ उठवाकर संकल्प लिया कि हम क्षेत्र में एकता व अमन कायम रखेगे।सभा मे पूर्व विधायक सोमांश प्रकाश ,ड़ा रामनाथ प्रेमी ,मौलाना हक़ीमऊद्दीन कासमी,डीसीडीएफ के पूर्व चेयरमैन सोमपाल बिरालसी,जिला पंचायत सदस्य राकेश वशिष्ठ ,अनुज गर्ग,मास्टर इस्लाम,लियाकत ,नोशाद बुडिना,अहसानमोहसिन,अहसानकासमी,लुकमान आदि सेंकडो लोग मौजूद थे ।कार्यक्रम की अध्यक्षता हाफिज फुरकान असदी व संचालन आयोजक मौलाना मूसा कासमी ने किया।
फोटो कैप्सन3,4चरथावल
-ग्राम नंगला राई में मदरसे में अमन व हरयाली का संदेश के लिये पौधरोपण करते मदनी व चिदानन्द स्वामी
-मंच पर उपस्थित

Translate »